शनिवार, 14 मई 2016

एलोरा की गुफाओं से संबन्धित दस रोचक तथ्य:, interesting facts about ellora gufa



एलोरा की गुफा


1. स्थानीय स्तर पर एलोरा की गुफाओं कोवेरुल लेणीके नाम से जाना जाता है|

2. यह सम्पूर्ण विश् में चट्टान को काट कर बनाए गए सबसे बड़े मठ-मंदिर परिसरों में से एक है।

3. एलोरा की गुफाएँ भारत के शैल-कृत्य स्थापत्य (Rock-Cut Architecture) का अद्भुत नमूना हैं|

4. एलोरा, विश् में सबसे बड़े एकल एकाश् उत्खनन ( Largest Single Monolithic Excavation), विशाल कैलाश (गुफा 16) के लिए विख्यात है|

5. अजंता की गुफाओं से भिन्, एलोरा की गुफाओं की विशेषता यह है कि व्यापार मार्ग के अत्यंत निकट स्थित होने के कारण इनकी कभी भी उपेक्षा नहीं हुई।

6. 19वीं सदी के दौरान इन गुफाओं पर इंदौर के होल्करों का नियंत्रण हो गया था, जिन्होनें पूजा के अधिकार के लिए इनकी नीलामी की तथा धार्मिक और प्रवेश शुल्क के लिए इमहें पट्टे पर दे दिया। होल्करों के बाद  इनका नियंत्रण हैदराबाद के निजाम को अंतरित कर दिया गया, जिसने भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण के मार्गदर्शन में अपने विभाग के माध्यम से गुफाओं की व्यापक मरम्मत एवं रखरखाव करवाया गया।

7. एक बड़े पठार की कगार में इन गुफाओं का उत्खनन किया गया है, जो उत्तर-पश्चिम दिशा में लगभग 2 किलोमीटर तक फैला हुआ है। कगार अर्ध-वृत्ताकार रूप में होने से, दक्षिण में दाएं वृत्तांश पर बौद्ध धर्म समूह, जबकि उत्तर में बाएं वृत्तांश पर जैन धर्म समूह एवं केंद्र में हिन्दू धर्म समूह की गुफाएँ हैं।


8. दशावतार गुफा (गुफा संख्या 15) में भगवान विष्णु के दस अवतारों को दर्शाया गया है|

9. ये गुफाएं महाराष्ट्र की ज्वालामुखीय बसाल्टी संरचनाओं को काट कर बनाई गई हैं, जिन्हें 'दक्कन ट्रेप कहा जाता है।


10. यहाँ स्थित सबसे प्रसिद्ध बौद्ध गुफा विश्वकर्मा गुफा (गुफा संख्या 10) है, जोकि एक चैत्यगृह है|







0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
Child Education Child Shiksha - Gk Updates | Current affairs