गुरुवार, 2 अक्तूबर 2014

हिम्मत मत हारो, नए सिरे से फिर यात्रा शुरू करो, सफलता अवश्य मिलेगी” !

अगर आप कोशिश करते हो और फिर

भी सफलता नहीं मिलती तो निराश मत होना,

बल्कि उस व्यक्ति को याद करना जिसने 21वें

वर्ष में वार्ड मेंबर का चुनाव लड़ा और हार

गया ! 22वें वर्ष में व्यवसाय

करना चाहा तो नाकामयाब रहा ! फिर 27वें

वर्ष में पत्नी ने तलाक दे दिया। 32वें वर्ष में

सांसद पद के लिए खड़ा हुआ पर मात खा गया।

37वें वर्ष में कांग्रेस की सीनेट के लिए खड़ा हुआ,

किंतु हार गया ! 42वें वर्ष में पुन: सांसद पद के

लिए खड़ा हुआ, फिर हार गया ! 47वें वर्ष में

उप-राष्ट्रपति पद के लिए खड़ा हुआ, पर परास्त

हो गया ! लेकिन वही व्यक्ति 51 वर्ष

की उम्र में अमेरिका राष्ट्रपति बना !

नाम था- अब्राहम लिंकन !

इसीलिए कहा गया है- "हिम्मत मत हारो, नए

सिरे से फिर यात्रा शुरू करो, सफलता अवश्य

मिलेगी" !

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
Child Education Child Shiksha - Gk Updates | Current affairs