मंगलवार, 23 सितंबर 2014

भारत के बारे में |About India|

Bharat GkinHindi.Net
हर देश की पहचान कुछ विशेष चिह्नों से

होती है. देश का नक्शा या मानचित्र हमें देश

की भौगोलिक स्थिति की सूचना देता है.

राष्ट्रध्वज सभी महत्त्वपूर्ण

सरकारी संस्थानों, राष्ट्रीय पर्वो और

अन्तराष्ट्रीय घटनाओं पर देश की निशानी के

रूप में प्रयोग किया जाता है. राष्ट्रचिह्न

का उपयोग मुद्रा और सरकारी मुहरों पर

होता है. राष्ट्रगान और राष्ट्रगीत

सभी राष्ट्रीय पर्वो पर, अन्तर्राष्ट्रीय

अवसरों पर, पुलिस, सेना व सेना से संबंधित अन्य

विभागों के विशेष अवसरों पर, तथा स्कूलों में

गाया जाता है.
राष्ट्रीय पशु, पक्षी, वृक्ष,

फूल और फल हमें अपने देश की विशेषताओं से

परिचित कराते हैं.

हमारा राष्ट्रीय ध्वज खादी की अलग अलग


Tiranga in GKinHindi


रंगों वाली तीन पट्टियों से बना है. सबसे उपर

केसरी रंग, बीच में सफेद और सबसे नीचे हरा रंग

है. केसरी रंग राष्ट्र की शक्ति का प्रतीक है.

यह हमें साहस त्याग और बलिदान की याद

दिलाता है. बीच में सफेद रंग धर्मचक्र

के साथ शांति, सत्य और

पवित्रता का सूचक है.

हरा रंग दृढ विश्वास और

अपने देश की उपजाऊ मिट्टी की याद

दिलाता है. सफेद रंग के मध्य में गहरे नीले रंग

का धर्मचक्र्र न्याय और गति का प्रतीक है.

धर्मचक्र के 24 अरे हैं जो दिन और रात के

चौबीस घंटों के प्रतीक हैं. अपने राष्ट्रीय ध्वज

की लंबाई और चौडाई का अनुपात निश्चित है.

चौडाई और लंबाई दो व तीन के अनुपात में

होती है.बीच के सफेद रंग के हिस्से पर गहरे नीले

रंग का चक्र, सफेद रंग के चौडाई के अनुपात में

होता है. हमारे देश का राष्ट्रिय गीत जन गण

मन रवींद्रनाथ टेगोर ने लिखा है.

उत्तर प्रदेश में वाराणसी के पास सारनाथ

की प्रसिध्द सिंह लाट की प्रतिकृति अपने देश

का राष्ट्रीय चिह्न है. सारनाथ की यह सिंह

लाट सम्राट अशोक ने ईसा से तीन सौ साल

पहले बनवाई थी.यह वही जगह है जहां भगवान

बुध्द ने अपना सबसे पहला धर्मर् - उपदेश

दिया था और शांति तथा विश्व के उध्दार के

लिये चार आदर्श सत्यों का मार्ग

दिखाया था.चारों दिशाओं की ओर मुंह किये हुए

ये चार सिंह ( एक पीछे अदृश्य) एक गोल शीर्ष

फलक पर है. शीर्ष फलक के चारों ओर

चारों दिशाओं के रक्षक पशु उत्कीर्ण हैं. उत्तर

दिशा की ओर शेर , दक्षिण दिशा की ओर घोडा

, पूर्व दिशा की ओर हाथी और पश्चिम

दिशा की ओर सांड या बैल है. शीर्ष फलक एक

संपूर्ण खिले हुए कमल के फूल पर आधारित है.

राष्ट्रचिह्न के नीचे देवनागरी लिपी में

सत्यमेव जयते लिखा है जिसका अर्थ है कि केवल

सत्य की ही विजय होती है.

पीले रंग का काली धारियों वाला यह बाघ

Tiger in Gkihndi
हमारे देश का राष्ट्रीय पशु है. यह

अपनी शक्ति और आकर्षक बनावट के लिये

लोकप्रिय है. यह एक दुर्लभ पशु है इसलिये

भारत सरकार ने प्रोजेक्ट टायगर के नाम

अन्तर्गत बाघ संरक्षण का एक कार्यकम शुरू

किया है.

रंग-बिरंगे पंखों वाला मोर हमारा राष्ट्रीय

पक्षी है. ये छोटे झुंड बना कर पानी के पास
Peacock In GKinHIndi

रहते है.नर जब अपने रंगबिरंगी पंख फैला कर उसे

पंखा जैसे बनाता है तो उसकी सुंदरता देखते

ही बनती है.

कमल

Lotus in GKinHindi
हमारा राष्ट्रीय पुष्प है. यह पानी मे

पैदा होता है और बडे बडे पत्तों के साथ

पानी के उपर खिलता है.एक के उपर एक बहुत

सी पंखुरियों की सतहों वाला यह फूल सुंदर

रंगों के कारण आंखो को तो भाता ही है , साथ

साथ सुगंध भी फैलाता है. पुराणों तथा पुराने

ग्रंथों में भी इसका उल्लेख है.

आम

हमारा राष्ट्रीय

फल है. विश्व के उष्ण

कटिबन्ध में यह

लगभग हर जगह

पाया जाता है.

पौष्टिक तत्वों से

भरा यह फल भारत में

काफी रंग रूप और किस्मों में पाया जाता है.

कहते है , कालिदास नें इसके गुन गायें है ,

अलेक्झांडर ने इसे खा कर अपनाया था , अकबर ने

तो इसके 100,000 पौधे दरभंगा के लाखीबाग

में लगावाए थे.

बरगद भारत का राष्ट्रीय वृक्ष ह
.यह
Bunyan Tree in GkinHindi

अपनी टहनियों से ही नई जडें उगा कर

नया पौधा तैयार कर लेता है. इस कारण यह

पौधा अमर माना गया है.इसकी घनी छांह

गर्मी में बडी शीतलता प्रदान करती है.

गांवों के जीवन का यह प्रमुख केन्द्र होता है.

चौपाल में गांव के सभी लोग यहीं मिलते हैं.

धार्मिक दृष्टि से भी इसे पूजनीय

माना गया है.

भारत के राष्ट्रीय प्रतीक(चिन्ह) एवं भाषा 
India's National Emblem and Language

1. भारत का राष्ट्रीय पशु – टाइगर
बाघ भारत के वन्य जीवन के धन का प्रतीक है।
2. भारत का राष्ट्रीय पक्षी – मयूर
मयूर भारत का राष्ट्रीय पक्षी है यह सौंदर्य अनुग्रह जैसे गुणों का प्रतीक है।
3. भारत का राष्ट्रीय जलचर – गंगा डॉल्फिन
गंगा डॉल्फिन पवित्र के रूप में गंगा की पवित्रता का प्रतिनिधित्व करने के लिए कहा जाता है। क्योकि यह शुद्ध और ताजा पानी में ही जीवित रह सकते हैं।
4. भारत का राष्ट्रीय फल – आम
आम राष्ट्रीय फल है। और अत्यंत ही मीठा होता है। आम की अति प्राचीन काल से भारत में खेती की जाती है। इसकी 100 से अधिक किस्में हैं।
5. भारत का राष्ट्रीय पुष्प – कमल
वैज्ञानिक तौर पर Nelumbo Nucifera के रूप में जाना जाता है। कमल भारत का राष्ट्रीय फूल है और यह एक पवित्र फूल है। धन ज्ञान और आत्मज्ञान भूल का प्रतीक है। यह कीचड़ में खिलकर भी स्वच्छ होता है। जो दिल और मन की पवित्रता का प्रतीक है।
6. भारत का राष्ट्रीय पेड़ – बरगद
भारत का राष्ट्रीय पेड़ बरगद है। यह एक विशाल पेड़ है। जो अपने आस पास के वृक्ष और राहगीर को छाया प्रधान करता और हिन्दुओ में इसे पूजा जाता है।
7. भारत के राष्ट्र पिता – महात्मा गांधी
बसे पहले सुभाष चंद्र बोस द्वारा “राष्ट्र के पिता” के रूप में 4 जून १,९४४ में रंगून से आजाद हिंद रेडियो पर संबोधित किये गए बाद में भारत सरकार द्वारा मान्यता दी गई।
8. भारतीय राष्ट्रीय ध्वज – तिरंगा
राष्ट्रीय ध्वज क्षैतिज तिरंगा शीर्ष पर गहरा भगवा (केसरी) और नीचे गहरे हरे रंग होता है। मध्य में सफेद जिसपर अशोक चक्र होता है। इसके इसकी लम्बाई चौडाई का अनुपात ३:२ होता है।
9. भारत का राष्ट्रीय खेल – हॉकी


Hockey in GKinHindi.net



हॉकी में भारत का आठ ओलंपिक स्वर्ण पदक के साथ एक प्रभावशाली रिकॉर्ड हैआधिकारिक तौर पर हॉकी राष्ट्रीय खेल है।
10. भारत का राष्ट्रीय गान – जन – गण – मन…….
Ravindra Nath Tagor on GkinHindi.net
न – गण – मन गीत मूल रूप से बंगाली में रवींद्रनाथ टैगोर द्वारा रचित है। इसके हिन्दी संस्करण को राष्ट्रीय गान के तौर पर अपनाया गया है।
11. राष्ट्रीय कैलेंडर – शक संवत
राष्ट्रीय कैलेंडर शक युग चैत्र के साथ अपनी पहली महीने के रूप में और 365 दिनों की एक सामान्य वर्ष के आधार पर 22 मार्च 1957 से अपनाया गया यह ग्रेगोरियन कैलेंडर के साथ में प्रयोग किया जाता है
12. भारत का राष्ट्रीय गीत – वंदे मातरम्
गीत वंदे मातरम् बंकिमचंद्र चटर्जी द्वारा संस्कृत एवं बंगला में 1882 में रचित प्रेरणा किया जो के स्रोत है। इस गीत ने भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी गीत के पहले दो छंद को भारत गणराज्य के राष्ट्रीय गीत का आधिकारिक दर्जा दिया गया जो संस्कृत में है
13. भारत के राष्ट्रीय प्रतीक
भारत का राष्ट्रीय प्रतीक सारनाथ में अशोक के बौद्ध शेर राजधानी (अशोक स्तम्भ का उपरी) है। इसमें चार एशियाई शेर एक दूसरे के विपरीत दिशा में चारो दिशाओ की सुरक्षात्मक मुद्रा में है। सारनाथ भारतीय राज्य उत्तर प्रदेश में बनारस के पास है। भारत के प्रतीक के नीचे आदर्श वाक्य देवनागरी स्क्रिप्ट में “सत्यमेव जयते” उदित हैं – जिसका मतलब “सत्य की सदा ही जीत होती है
14. भारतीय राष्ट्रीय नदी – गंगा नदी
गंगा भारत की सबसे लंबी नदी हैगंगा नदी पृथ्वी पर सबसे पवित्र नदी के रूप में हिंदुओं द्वारा प्रतिष्ठित है। किसी और नदी के मुकाबले दुनिया में सबसे भारी आबादी गंगा नदी के पास बसी है।
15. भारत की राज भाषा – हिंदी
हिंदी भारत देश की राज भाषा है। और विश्व में दूसरे नंबर की सब से ज्यादा लोगो दुआर बोली जाने वाली भाषा है।
16. भारत का राष्ट्रीय अवतार – भारत माता
भारत माता या भारतअम्बा/ Bhāratāmbā (संस्कृत से हिन्दी भारत अंबा से अम्बा ‘मां’/माता) एक देवी माँ के रूप में भारत के राष्ट्रीय अवतार के रूप में वह आम तौर पर एक नारंगी या केसरिया साड़ी पहने एक औरत को एक झंडा पकड़े और कभी कभी एक शेर के साथ दर्शाया जाता है।
(भारत देश के इन प्रतीक(चिन्ह) और भाषा के बारे में जितना लिखा जाये कम है। हर एक के बारे में लिखने के लिए तो पूरी-पूरी किताबे लिखी जा सकती है।)
महत्वपूर्ण जानकारियाँ
महान व्यक्तित्व

शॉर्टकट ट्रिक्स |  

प्रेरणा  

 रोचक तथ्य


संबंधित टैग-
भारत का राष्ट्रीय प्रतीक| India's national emblem |bhrat ka Rastriya pratika
भारत का राष्ट्रीय अवतार| National avatar|bhrat ka Rastriya Avtar
भारत का राष्ट्रीय गीत |India's national song| bhrat ka Rastriya Geet
भारत का राष्ट्रीय खेल |National Games|bhrat ka Rastriya khel
भारत का राष्ट्रीय ध्वज| India's national flag|bhrat ka Rastriya dyaj
भारत का राष्ट्रीय पशु |India's national animal|bhrat ka Rastriya pashu
भारत के राष्ट्रीय प्रतीक| India's national Emblem|bhrat ka Rastriya
भारत के राष्ट्रीय प्रतीक(चिन्ह) एवं भाषा |bhrat ka Rastriya bhasha
India's National Emblem and Language|
भारत का राष्ट्रीय भाषा |India's national Language|bhrat ka Rastriya bhasha
भारत के बारे में |About India|bhrat ke bare me|
Know about Bharat|
Great India ||
Our India |

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
Child Education Child Shiksha - Gk Updates | Current affairs